जिस शख़्स पर कफ़्फ़ारा वाजिब हो क्या उसके बदले क़ीमत अदा कर सकता है?

जिस शख़्स पर कफ़्फ़ारा वाजिब हो क्या उसके बदले क़ीमत अदा कर सकता है?

जवाब





बिस्मिल्लाहिर रहमानिर रहीम

कफ़्फ़ारे और फ़िदये दोनों की रक़म मुस्तहक़ को देना काफी नहीं है बल्कि आटा या चावल या खजूर देना ज़रूरी है.



हवाला :  आयतुल्लाह सीस्तानी, https://www.sistani.org/urdu/qa 

अगर आप हमारे जवाब से संतुष्ट हैंं तो कृप्या लाइक कीजिए।
0
شیئر کیجئے