क्या बिना वुज़ू या माहवारी के आलम में मोबाइल फोन की स्क्रीन पर क़ुरआन मजीद की आयतों को छूना जायज़ है?




क्या बिना वुज़ू या माहवारी के आलम में मोबाइल फोन की स्क्रीन पर क़ुरआन मजीद की आयतों को छूना जायज़ है?

जवाब
 


बिस्मिल्लाहिर रहमानिर रहीम

इस सवाल में जिस हालत का जिक्र किया गया है, असल में वह क़ुरआन की आयतें नहीं बल्कि मोबाइल फोन की स्क्रीन है और इसमें कोई हरज नहीं है।

अगर आप हमारे जवाब से संतुष्ट हैंं तो कृप्या लाइक कीजिए।
0
شیئر کیجئے