अब्दुल्लाह" और "हबीबुल्लाह" जैसे नामों को बिना वुज़ू के छूने का क्या हुक्म है"?



"अब्दुल्लाह" और "हबीबुल्लाह" जैसे नामों को बिना वुज़ू के छूने का क्या हुक्म है?

जवाब :




बिस्मिल्लाहिर रहमानिर रहीम

"अल्लाह" लफ्ज़ को बिना वुज़ू के छूना जाएज़ नहीं है. चाहे यह लफ्ज़ किसी मुरक्कब (दो या कई शब्द से मिलकर बने) नाम का ही हिस्सा क्यों न हो.

हवाला: https://www.leader.ir/ur/book/106/ 

अगर आप हमारे जवाब से संतुष्ट हैंं तो कृप्या लाइक कीजिए।
0
شیئر کیجئے