वुज़ू के बग़ैर किन मुबारक नामों को छूना हराम है?

जवाब:




बिस्मिल्लाहिर रहमानिर रहीम
अल्लाह तआला के मख़सूस सिफ़ात और नामों को वुज़ू के बग़ैर छूना हराम है. और एहतियात यह है कि अंबिया किराम और मासूम इमामों के नामों के सिलसिले में भी यही हुक्म जारी है.

हवाला: https://www.leader.ir/ur/book/106/

अगर आप हमारे जवाब से संतुष्ट हैंं तो कृप्या लाइक कीजिए।
0
شیئر کیجئے